सहारनपुर: भीम आर्मी के जिला सदर कमल वालिया के भाई का कत्ल शहर में कशीदगी

सहारनपुर में एक बार फीर हालात ख़राब, मल्हीपुर रोड को छावनी में बदल दिया गया है 


नई दिल्ली: महाराणा प्रताप की जयंती के मौके पर एक बार फिर सहारनपुर में हालात खराब हो गए हैं बुद्ध को भीम आर्मी के जिला सदर कमल वालिया के भाई सचिन वालिया की गोली लगने से मौत हो गई जिसके बाद से इलाके में तनाव का माहौल बना हुआ है फिलहाल पुलिस और जिला इंतजामिया के सामने लॉ एंड ऑर्डर बनाए रखना सबसे बड़ा चैलेंज बन गया है मौके पर पीएसी और भारी फोर्स तैनात कर दी गई है।
न्यूज़ 18 के मुताबिक सचिन वालिया को महाराणा प्रताप जयंती की जगह से कुछ ही दूरी पर गोली लगी है जिसके बाद उनको फौरन जिला अस्पताल पहुंचाया गया जहां डॉक्टरों ने उनके मरने की तस्दीक की हालांकि गोली कैसे लगी यह किसने मारी यह भी मालूम नहीं हो पाया है सचिन वालिया के रिश्तेदारों का कहना है कि इस को गोली मारकर कत्ल किया गया है जिला अस्पताल के बाहर सचिन के भाई और रिश्तेदारों ने जमकर हंगामा किया उनका  इल्जाम था कि सचिन को इंतजामिया ने कत्ल करवाया है इसके बाद रिश्तेदारों ने लाश को पोस्टमार्टम के लिए ले जाने की भी मुखालफत की जिसके बाद पुलिस को फोर्स का इस्तेमाल भी करना पड़ा सचिन के घर वालों का कहना था कि महाराणा प्रताप की जन्म पैदाइश न मानाने की वार्निंग दी गई थी फिर भी इंतजामिया ने उसकी इजाजत दी।
भाई के मुताबिक सचिन नाश्ता लेने के लिए बाहर निकला था तभी किसी ने उसको गोली मार दी हालांकि किसने गोली मारी वह उसका चेहरा नहीं देख सका वाज़ेह हो कि महाराणा प्रताप जयंती को देखते हुए जिला इंतजामिया अलर्ट पर था महाराणा प्रताप भवन पर 800 पुलिस वाले तैनात किए गए थे 200 लोगों को इंतजामिया ने कुछ शर्तों के साथ जयंती मनाने की इजाजत दी थी जबकि भीम आर्मी ने जयंती ना मनाने की वार्निंग भी दी थी उसके बावजूद इस कतल को अंजाम दिया गया।
गौरतलब है कि पिछले साल आज ही के दिन सहारनपुर में कास्ट को लेकर बवाल हुआ था फिलहाल दंगा भड़काने के खतरे को देखते हुए थाना सदर बाजार के मल्हीपुर रोड को छावनी में तब्दील कर दिया गया है।

अपना कमेन्ट लिखें

कृपया कमेंट बॉक्स में किसी भी स्पैम लिंक को दर्ज न करें।

नया पेज पुराने
Sidebar ADS

asbaq.com

हिन्दी न्यूज़ की लेटैस्ट अपडेट के लिए हमे टेलीग्राम पर जॉइन करें

क्लिक करके जॉइन करें