सऊदी अरब ने स्टैम्प्ड वर्क वीजा शुल्क वापस करने की स्वीधा परदान करना शुरू करदिया है

सऊदी समाज कल्याण मंत्रालय ने नए कोरोना वायरस की महामारी शुरू होने से पहले वीजा निकलवाने वाले केन्द्रों, कंपनियों और व्यक्तियों के लिए आसानी करदी है।
वीजा रद्द कराने या शुल्क वापस लेने का निर्णय लागू किया जा रहा है।
याद रहे कि वीज़ा निकलवाने वाले डर रहे थे कि कोरोना के कारण यात्रा पर पर्तिबंध और अन्य सुरक्षा उपायों के कारण वीजा का उपयोग नहीं हो सका और वर्तमान में उनका उपयोग करना मुश्किल लगता है। ऐसी स्थिति में उनकी भाग दौड़ और वीज़ा शुल्क का नुकसान हो रहा है।

समाचार 24 के अनुसार, विदेश मंत्रालय के सहयोग से समाज कल्याण मंत्रालय ने घोषणा की है कि जिन निजी संस्थाओं या कंपनियों ने वर्क वीजा जारी किया है और उन वीजा का इस्तेमाल नहीं किया गया या वीज़ा पासपोर्ट पर लग गया था लेकिन अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के निलंबन के कारण कर्मचारी यात्रा करने में असमर्थ रहे ये लोग वीजा शुल्क वापस भी ले सकते हैं और वीजा रद्द भी करा सकते हैं।
समाज कल्याण मंत्रालय के अनुसार सऊदी सरकार ने यह सुविधा नए कोरोना वायरस (कोविड 19) के प्रसार को रोकने के लिए एहतियाती उपायों से नज़र आने वाले नकारात्मक प्रभाव को कम करने के लिए प्रदान की है।
सऊदी सरकार चाहती है कि सरकारी और निजी संस्थान महामारी से कम प्रभावित हों।
याद रहे कि समाज कल्याण मंत्रालय इस संबंध में विदेश मंत्रालय, वित्त मंत्रालय और राष्ट्रीय सूचना केंद्रों के साथ काम कर रहा है।
18 मार्च, 2020 को शाही फरमान जारी करने की तारीख से लेकर अब तक पासपोर्ट पर लगे होए विज़े जो अब तक उपयोग नहीं किए गए उनका शुल्क वापस लिया जा सकता है और इसे रद्द भी किया जा सकता है।

अपना कमेन्ट लिखें

कृपया कमेंट बॉक्स में किसी भी स्पैम लिंक को दर्ज न करें।

और नया पुराने
Sidebar ADS

asbaq.com

हिन्दी न्यूज़ की लेटैस्ट अपडेट के लिए हमे टेलीग्राम पर जॉइन करें

क्लिक करके जॉइन करें