जाती और धर्म से ऊपर उठ कर मानवता की सेवा कर रहे हैं मुस्लिम युवा

(मादिपुर/दिल्ली) भारत में चल रहे लॉकडाउन के कारण दिहाड़ी मजदूरों और गरीबों की समस्या बढ़ गई, अचानक और बिना किसी प्लान के किए गए लॉकडाउन में सब से जादा गरीब मारे जा रहे हैं ऐसे लोग जो रोज़ कमाते खाते थे उनके लिए लॉकडाउन क़यामत से कम नहीं साबित हो रहा है।
जिन कंपनियों में काम करते थे व बंद होचुकी हैं और ऐसे गरीब और मजदूर रोड पर आगाए है ऐसे हालत में न रहने के लिए उनके पास घर है और न खाने के लिए खाना और न ही करने के लिए कोई काम कि जिस से वह दो समय की रोटी कमा और खा सकें।

ऐसे हालात में मुस्लिम युवाओं का सामने आकार और जाती और धर्म से ऊपर उठ कर मानवता की सेवा करना किसी मिसाल से कम नहीं है, जबकि पूरे भारत में मुसलमानों को दोसरे दर्जे का शहरी साबित करने की कोशिश की जा रही हो, यहाँ तक की कोरोना फैलाना का दोषी भी मुसलमानों को माना जा रहा हो।
इस से पता चलता है की मुस्लिम युवा आज भी मानवता के सेवा करना अपना धर्म समझता है। 
खुद को अपडेट रखें, व्हाट्सएप ब्रॉडकास्ट से जुड़ें। नीचे लिंक पर क्लिक करें या फिर Join लिख कर 9628-26-3050 पर भेजें।

Asbaq.Com तमाम भारतियों खास कर मुस्लिम युवा से अपील करता है की ऐसे हालात में सामने आयें और बढ़ चढ़ कर मानवता की सेवा करें।

पता: अल हिरा स्कूल
मदीना मस्जिद, मादिपुर
जेजे कॉलोनी एफ ब्लॉक
मोबाइल: मोहम्मद सलमान 9582247527

अपना कमेन्ट लिखें

कृपया कमेंट बॉक्स में किसी भी स्पैम लिंक को दर्ज न करें।

नया पेज पुराने
Sidebar ADS

asbaq.com

हिन्दी न्यूज़ की लेटैस्ट अपडेट के लिए हमे टेलीग्राम पर जॉइन करें

क्लिक करके जॉइन करें