विदेशियों में कोरोनो वायरस संक्रमण की दर कम होने लगी

सऊदी अरब में नए कोरोना वायरस से संक्रमित विदेशियों की संख्या घट रही है।
स्वास्थ्य मंत्रालय के बयान के अनुसार प्रवासियों के बीच कोरोना के नए मामलों की दर 55% दर्ज की गई जबकि इस से पहले नए मामलों में 82% पार कर गई थी।
सबक़ वेबसाइट के अनुसार कोरोना वायरस से संक्रमित सउदी नागरिकों कि दर 17% से बढ़कर 45% हो गई है।

विदेशी श्रमिकों के बीच वायरस के जोखिम की कम दर का मुख्य कारण श्रमिकों के निवास पर सक्रिय कोरोना परीक्षण अभियान है। सऊदी अधिकारियों ने एहतियात के तौर पर श्रमिकों के परिसरों पर बड़े पैमाने पर कोरोना परीक्षण अभियान चलाया है।
नगर पालिका और ग्रामीण मामलों के मंत्रालय ने देश के सभी 13 रीजनों के राज्यपालों के साथ मिलकर विदेशी श्रमिकों के लिए ऐसे आवास की व्यवस्था की जहां सामाजिक दूरी का कानून प्रभावी था।
आवासीय केंद्रों से श्रमिकों की अधिक भीड़ को खत्म करने के लिए विशेष व्यवस्था की गई। उदाहरण के लिए विदेशियों को होटल और स्कूलों में ठहराया गया। उनके लिए आवासीय शिविर लगाए गए थे। कई इमारतें किराए पर ली गईं।

इस बीच स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता का ब्रीफिंग में कहना था कि दुनिया भर में कोरोना से संक्रमित लोगों में गंभीर रूप से बीमार लोगों कि दर पांच से दस प्रतिशत है। अधिकांश देशों में गंभीर मामलों की दर पांच प्रतिशत है, जबकि कुछ देशों में यह दर दस प्रतिशत तक है।
प्रवक्ता के अनुसार सऊदी अरब में गंभीर मामलों कि दर 2% से भी कम है। यह स्थिति दिलों को इतमेनान देने वाली है। सौभाग्य से बच्चों में कोरोना वायरस का एक भी गंभीर मामला नहीं है।
स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि सऊदी अरब के विशेषज्ञों का एक समूह सऊदी अरब के सभी हिस्सों, अस्पतालों और स्वास्थ्य केंद्रों की स्थिति की निगरानी कर रहा है।

अपना कमेन्ट लिखें

कृपया कमेंट बॉक्स में किसी भी स्पैम लिंक को दर्ज न करें।

और नया पुराने
Sidebar ADS

asbaq.com

हिन्दी न्यूज़ की लेटैस्ट अपडेट के लिए हमे टेलीग्राम पर जॉइन करें

क्लिक करके जॉइन करें