सऊदी अरबिया में दफनाने के लिए हो रहा है कम्प्यूटराइज़्ड थर्मल कैमरों का उपयोग

मदीना की नगर पालिका की तरफ से शहर के प्रसिद्ध कब्रिस्तान 'बकी अल-ग़रक़द' के कफन दफन विभाग में कम्प्यूटराइज़्ड थर्मल कैमरों की स्थापना शुरू हो गई है।
सऊदी समाचार एजेंसी 'एसपीए' के अनुसार, कैमरों की स्थापना का उद्देश्य "कोरोना वायरस" से बचाओ और दफनाने के लिए आने वाले तापमान को संरक्षण और रिकॉर्ड करना है।
इससे पहले नगर पालिका की तरफ शरीर का तापमान दर्ज करने वाला कम्प्यूटराइज़्ड थर्मल सिस्टम कई जगहों पर स्थापित किया जा चुका है, जिसके माध्यम से मानव शरीर का तापमान दूर से ही दर्ज कर लिया जाता है।

नगरपालिका ने मदीना शहर के सफाई कर्मचारियों के आवासीय परिसर में भी सिस्टम स्थापित किया है। इसे भी पढ़ें सऊदी अरब में जारी कर्फ्यू दोसरा आदेश आने तक बढ़ा दिया गया है
नगरपालिका के एक अधिकारी के अनुसार कर्मचारियों  को ड्यूटी पर जाने से पहले और ड्यूटी समाप्त होने के बाद परिसर में प्रवेश करने से पहले तापमान दर्ज किया जाता है। यदि किसी कार्यकर्ता का तापमान बहुत अधिक है, तो उसे तुरंत अस्पताल भेजा जाता है।
दूसरी ओर सबक़ न्यूज का कहना है कि नगरपालिका की तरफ से शहर की मुख्य सब्जी और फल बाजार में आने वालों का तापमान रिकॉर्ड करने के लिए ड्रोन थर्मल कैमरों का भी उपयोग किया जा रहा है।

खुद को अपडेट रखें, व्हाट्सएप ब्रॉडकास्ट से जुड़ें। नीचे लिंक पर क्लिक करें या फिर Join लिख कर 9628-26-3050 पर भेजें।

अपना कमेन्ट लिखें

कृपया कमेंट बॉक्स में किसी भी स्पैम लिंक को दर्ज न करें।

और नया पुराने
Sidebar ADS

asbaq.com

हिन्दी न्यूज़ की लेटैस्ट अपडेट के लिए हमे टेलीग्राम पर जॉइन करें

क्लिक करके जॉइन करें