रमज़ान में शरीर को कितने पानी की जरूरत होती है?

हवा के बाद पानी मानव जीवन के लिए सबसे महत्वपूर्ण चीज है। विशेषज्ञों के अनुसार एक आदमी को रोजाना 3.7 लीटर पानी की जरूरत होती है, जबकि एक महिला को रोजाना 2.7 लीटर पानी की जरूरत होती है। आमतौर पर पानी की आठ प्रतिशत जरूरतें तरल और विभिन्न खाद्य पदार्थों से पूरी होती हैं।
सऊदी अरब के अल-रजुल पत्रिका ने विशेषज्ञों के हवाले से बताया कि रमज़ान में लंबे रोज़े के दौरान इंसान बड़ी मात्रा में पानी खो देता है। विशेष रूप से गर्म क्षेत्रों में मानव शरीर से बड़ी मात्रा में पानी निकल जाता है। इसीलिए इफ्तार के बाद पानी की खोई होई मात्रा की भरपाई करनी पड़ती है ताकि मानव शरीर को तरल पदार्थों की जेतनी जरूरत होती है वो पूरा हो सके और मानव अंग संतुलित तरीके से अपना कार्य कर सकें।
सवाल यह है कि पनि के एक गिलास में कितनी मात्रा ज़रूरी है और इसकी शर्तें क्या हैं।
इंसान की उम्र उसके वजन और उसकी दोड़ भाग को देख कर ही  बताया जा सकता है कि किसे कितना पानी पीना ज़रूरी है। कारण यह है कि इंसान जितना अधिक भाग दौड़ करता है, उसका शरीर उतना अधिक तरल पदार्थ खर्च करता है। ऐसे व्यक्ति को अधिक पानी पीना पड़ता है।
बच्चों को बड़ों की तुलना में कम पानी की आवश्यकता होती है। हालांकि हर दिन आठ गिलास पानी पीना चाहिए। मानव शरीर के लिए लगभग तीन लीटर पानी आवश्यक है।
खाद्य विशेषज्ञों का कहना है कि पानी को धीरे-धीरे पीना चाहिए ताकि शरीर को इससे फायदा हो सके।
खाद्य विशेषज्ञों का कहना है कि पानी का तापमान पाचन तंत्र को प्रभावित नहीं करता है। यह महत्वपूर्ण नहीं है कि आप गर्म पानी पियें यह महत्वपूर्ण है कि आप पानी पियें।
थोड़े समय में बहुत अधिक पानी न पिएं। ऐसा करने से शरीर में पानी  से ज़हर खुरानी का खतरा बढ़ जाता है।
मैराथन के दौरान यह बात विशेष रूप से उस समय रिकॉर्ड पर आती है जब दौड़ने वाले अधिक मात्रा में पानी पी लेते हैं और इसी तरह  जब पानी पीने की  प्रतियोगिता होती है तब भी ए खतरा उभर कर सामने आता है।

अपना कमेन्ट लिखें

कृपया कमेंट बॉक्स में किसी भी स्पैम लिंक को दर्ज न करें।

और नया पुराने
Sidebar ADS

asbaq.com

हिन्दी न्यूज़ की लेटैस्ट अपडेट के लिए हमे टेलीग्राम पर जॉइन करें

क्लिक करके जॉइन करें